DNA RNA क्या क्या होता है। Full Form, अंतर और स्ट्रक्चर को समझाइये।

अक्सर आपने डीएनए (DNA) और आरएनए (RNA) का नाम सुना होंगा। लेकिन क्या आप जानते है की यह डीएनए और आरएनए क्या होता है (DNA RNA kya hota hai) डीएनए और आरएनए में क्या अंतर है (DNA RNA difference) और इनका क्या उपयोग होता है। तो आज की इस पोस्ट में हम यही जानकारी आपको देने जा रहे है। तो इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़े।

नुक्लिक एसिड (Nucleic Acid)

दोस्तों DNA और RNA को समझने से पहले आपको नुक्लेइक एसिड (Nucleic Acid) को समझना चाहिए। सभी जीवित जीवो में या उनकी कोशिकाओं में, केन्द्रक के पास आनुवंशिक पदार्थ न्यूक्लियोप्रोटीन होता है, जिसे न्यूक्लिक एसिड कहते है। जीवों में यह नुक्लेइक एसिड दो प्रकार के होते है, DNA एवं RNA जिनके बारे में हम आगे जंगेंगे।

न्यूक्लिक अम्ल को 1868 में फेड्रिक मिशर ने (पस सेल) में खोजा था। तब इसे अल्टमान ने न्यूक्लिक अम्ल का नाम दिया था। पादप विषाणु को छोड़कर सभी में आनुवंशिक पदार्थ DNA होता है। वही पर पादप विषाणु में RNA पाया जाता है।

DNA RNA full form In Hindi

डीएनए (DNA) का पूरा नाम डिऑक्सीराइबोन्यूक्लिक अम्ल (deoxyribonucleic acid) होता है वही आरएनए (RAN) का फुल फॉर्म राइबो न्यूक्लिक अम्ल (ribo nucleic acid) होता है।

What Is DNA डीएनए क्या होता है ?

DNA शब्द जैकारिस (Zacharis) द्वारा दिया गया था, जो सभी जीवित जीवो की कोशिकाओं में पाया जाता है। अपवाद स्वरूप पादप वायरस, जहाँ RNA आनुवंशिक पदार्थ होता है तथा DNA अनुपस्थित होता है। बैक्टेरियोफेज़ तथा वायरस में DNA का एक अणु होता है, जो की कुंडलित तथा प्रोटीन आवरण (Coat) में घिरे रहते है। बैक्टेरिया, माइटोकॉन्ड्रिया, प्लास्टिड तथा अन्य प्रोकैरियोट्स में DNA वृतीय (Circular) तथा कोशिकाद्रव्य (Cytoplasm) में नग्न (Naked) अवस्था में पाए जाते है, तथा इसे आनुवंशिक सूचनाओं के वाहक (Carrier) के रूप में जाना जाता है। तथा यह सेल्फ रेप्लिकेशन करने में सक्षम होता है। निरेनबर्ग द्वारा जीवित जीव से विशिष्ट DNA खण्ड का शुद्धिकरण एवं पृथक्करण किया गया।

डीएनए का रासायनिक संगठन (Chemical composition)

DNA तीन प्रकार के यौगिक से मिलकर बना होता है।

  1. शर्करा अणु (Sugar Molecule) – लिवोन ने 1910 में न्यूक्लिक अम्ल में 5 कार्बन युक्त शर्करा राइबोज़ को पहचाना। यह एक पेन्टोज शर्करा डिऑक्सीराइबोज या 2-डिऑक्सीराइबोज द्वारा प्रदर्शित होती है। जो की दूसरे कार्बन से ऑक्सीजन के विलोपन के कारण राइबोज़ से उत्पन्न होती है।
  2. फॉस्फोरिक अम्ल (Phasphoric acid) – H3PO4 यह DNA को अम्लीय प्रकृति का बनाता है।
  3. नाइट्रोजनी क्षार (Nitrogenous Base)- कोसेल ने DNA में 2 प्यूरीन्स तथा 2 पिरिमिडिन्स की उपस्थिति को बताया है। ये नाइट्रोजन युक्त चक्रीय यौगिक होते है जिन्हे दो समूहों में वर्गीकृत किया गया है। a) प्यूरिन – प्यूरिन दो प्रकार के होते है। एडिनिन और ग्वानिन। b) पिरिमिडीन – यह तीन प्रकार के होते है, साइटोसीन, थायमिन, यूरेसिल।

DNA का वाटसन एवं क्रिक का मॉडल (Watson and Cricks modal of DNA)

1953 में वाटसन एवं क्रिक ने बताया की एक DNA में दो पॉलीन्यूक्लियोटाइड श्रृंखलाएँ विपरीत दिशा में व्यवस्थित होती है। अर्थात एक पॉलीन्यूक्लियोटाइड श्रृंखला 5’→3 ‘दिशा की ओर तथा दूसरी 3’→ 5′ दिशा की ओर होती है अर्थात एक श्रृंखला के 3′ सिरे के अतिरिक्त दूसरी श्रृंखला का 5’ सिरा मिलकर दाहिने हाथ (Right Handed) दिशा में कुण्डलन करते है।

DNA के महत्वपूर्ण लक्षण

  • DNA डबल हेलिक्स होता है अर्थात दो पॉलीन्यूक्लियोटाइड श्रृंखलाओ से मिलकर बना होता है।
  • इन हैलिक्स के बिच में फास्फोडायएस्टर बन्ध होता है। जिसके कारण से दोनों हैलिक्स के बिच की दुरी निर्धारित होती है।
  • DNA के पॉलीन्यूक्लियोटाइड श्रृंखलाएं एक – दूसरे की विपरीत दिशा में स्थित होती है।
  • डीएनए में राइट हैंडेड कुण्डलन होता है।
  • DNA मॉडल के प्रत्येक कुण्डलन में 10 क्षार युग्म या बेस्पियर पाए जाते है।
  • प्रत्येक बेस पेअर के बीच की दुरी 3.4Å होती है
  • DNA में दोनों हैलिक्स के बिच की दुरी 20 Å होती है।
  • DNA कुण्डलों के बिच की दुरी 34Å होती है।
  • DNA के कुण्डलं का घुमाव 360 डिग्री घड़ी की दिशा में होता है।

DNA के प्रकार (Types Of DNA)

  1. प्रोमिसकवस DNA – यह DNA माइटोकॉन्ड्रिया, क्लोरोप्लास्ट,और न्यूक्लियस के मध्य गति बनाता है इसे मक्के में खोजा था। इसे यीस्ट,पालक, और मटर में देखा गया।
  2. रिपीटिटिव DNA – इस प्रकार का DNA 20 – 90% होता है।
  3. सेटेलाइट DNA – ये उच्च प्रकार का DNA होता है जिनमे क्षार का संघटन भिन्न होता है।

What Is RNA आरएनए क्या होता है ?

RNA कोशिका द्रव्य और केन्द्रिका में पाया जाता है। कोशिका द्रव्य मुक्त अवस्था में पाया जाता है। माइटोकॉन्ड्रिया, क्लोरोप्लास्ट से भी RNA प्राप्त किया जाता है। पादप विषाणुओं में RNA आनुवंशिक पदार्थ होता है। RNA भी शर्करा, फास्फेट, नाइट्रोजनी क्षार से मिलकर बना होता है, किन्तु इसमें थायमिन के स्थान पर यूरेसिल होता है।

RNA के प्रकार (Types Of RNA)

RNA दो प्रकार के होते है।

  • जेनेटिक RNA – यह आनुवंशिक पदार्थ के रूप में कार्य करता है। यह RNA सिंगल स्ट्रेण्ड, डबल स्ट्रेण्ड हो सकता है।
  • नॉन जेनेटिक RNA – जिन जीवों में आनुवंशिक पदार्थ DNA होता है उन जीवों में जो RNA मौजूद होता है उसे नॉन जेनेटिक RNA कहते है।

ये तीन प्रकार के होते है।

  • m RNA – इसे Messenger RNA या सन्देश वाहक RNA भी कहते है। ये कोशिकाद्रव्य में प्रोटीन संश्लेषण के लिए आनुवंशिक सूचनाओं को ले जाता है। यह कुल RNA का 5% होता है। यह प्रोटीन संश्लेषण के लिए साँचे का कार्य करता है और इसका जीवनकाल छोटा होता है।
  • r RNA – इसे राइबोसोमल (Ribosomal) RNA कहते है। यह RNA न्यूक्लियोप्रोटीन का निर्माण करता है। यह RNA का 80% भाग बनाता है।
  • t RNA – इसे ट्रांसफर RNA (Transfer RNA) भी कहते है। यह RNA एमिनो अम्ल को अपने से जोड़कर प्रोटीन संश्लेषण की साइट पर ले जाता है। यह कोशिका का 0-15% भाग होता है।

आनुवंशिक कोड (Genetic Code)

इसे सबसे पहले क्रिक ने खोजा था। DNA की न्यूक्लियोटाइड श्रृंखला पर प्रोटीनों की पॉलीपेप्टाइट शृंखला के एमिनो अम्ल की विशिष्ट व्यवस्था के लिए कुछ निश्चित संकेत को आनुवंशिक संकेत कहते है। ये हमेशा ट्रिपलेट होते है। उदाहरण – UUU, AUG.

आनुवंशिक कोड के गुण (Properties Of The Genetic Code)

  • ट्रिप्लेड (Triplet) – मेसेंजर RNA में तीन न्यूक्लियोटाइड के क्रम द्वारा एक विशेष कोड होता है जिसे कोडान कहते है। यह ट्रिप्लेट प्रकृति के कारण यह 64 कोडान का बना होता है।
  • सर्वत्रिकता (Universal) – विषाणु से लेकर मनुष्य तक सभी जीवों में एक समान एमिनो अम्ल के कोण बने होते है,जिसे सार्वत्रिकता कहते है।
  • कॉमा रहित (Commaless) – इनके किसी भी दो न्यूक्लियोटाइड के बीच में कॉमा नहीं पाया जाता है। इसलिए ये निरंतर पढ़े जाते है।
  • नॉन ओवरलेपिंग (Non-overlapping) – ये ओवरलेपिंग नहीं करते है।
  • समारंभन कोडान (Initiation codon) – इस कोडान द्वारा पॉलीपेप्टाइड का निर्माण प्रारम्भ होता है, इसलिए इसे समारंभन कोडान कहते है। उदाहरण – AUG, GUG .
  • अपह्रास (Degeneracy) – यह सिंगल एमिनो एसिड को कोड करता है अर्थात अन्तिम क्षार होता है।

सेन्ट्रल डॉग्मा (Central Dogma)

आण्विक जीव विज्ञान के सेन्ट्रल डॉग्मा का उद्देश्य सूचनाओं का एक ही दिशा में गति करना है। DNA से RNA का बनना ट्रांसक्रिप्शन तथा RNA से प्रोटीन का बनना ट्रांसलेशन कहलाता है। इसी को सेन्ट्रल डॉग्मा कहते है। रिवर्स ट्रांसक्रिप्शन की घटना के अंतर्गत रिट्रो वायरस में RNA से DNA संश्लेषित होता है।

अनुलेखन (Transcription)

DNA से RNA का बनना ट्रांस्क्रिप्शन कहलाता है। यह DNA का हिटरोकेटेलिक कार्य होता है। DNA टेम्पलेट जो इस क्रिया में भाग लेता है सेन्स स्ट्रेण्ड कहलाता है। ट्रांस्क्रिप्शन की क्रिया में भाग लेने वाले DNA खंड को सिस्ट्रोन कहते है। ये तीन चरणों में होता है।

  1. समारंभन (Initiation) – यह RNA पॉलिमरेज एंजाइम के सिग्मा कारक की सहायता से प्रारंभ होता है।
  2. दीर्घीकरण (Elongation) – कोर एंजाइम के द्वारा दीर्घीकरण होता है। यह सेन्स स्ट्रेण्ड के साथ गति करता है।
  3. समापन या टर्मिंनेशन (Termination) – प्रोकैरियोट्स में टर्मिनेशन रो कारक के द्वारा होता है, जबकि यूकैरियोटिक में पोली A सिरा टर्मिनेशन के लिये उत्तरदायी होता है।

जीन के प्रकार (Types Of Genes)

  • ऑपरेटर जीन – यह जीन RNA पॉलिमरेज को मार्ग देता है।
  • प्रमोटर जीन – यह जीन RNA पॉलिमरेज की पहचान करता है।
  • प्रेरक जीन – यह एक प्रकार का रसायन है, जो m-RNA को ट्रांस्क्रिप्शन के लिए प्रेरित करता है।
  • रेगुलेटर जीन – यह दमनकारी जीन है।

Question – Answer

Question 1. DNA अणु में आनुवंशिक सुचना किस पर अंकित होती है ?

  • क्षारो की संख्या
  • न्यूक्लियोटाइड्स का अनुक्रम
  • DNA की लम्बाई
  • न्यूक्लियोसाइड्स की संख्या

Answer – न्यूक्लियोटाइड्स का अनुक्रम

Question 2. केवल RNA में उपस्थित यूरीडिन है ?

  • न्यूक्लियोसाइड
  • न्यूक्लियोसाइड
  • प्यूरिन
  • पिरिमिडीन

Answer – पिरिमिडीन

Question 3. केवल DNA में पाया जाने वाला नाइट्रोजनी क्षार यह भी कहलाता है ?

  • यूरेसिल
  • 5-मिथाइल यूरेसिल
  • ग्वानिन
  • NH4CL

Answer – 5-मिथाइल यूरेसिल

Question 4. DNA खण्डों को जोड़ने का कार्य कौनसा एन्जाइम करता है ?

  • DNA पॉलिमरेज -III
  • एण्डोन्युक्लिएज
  • DNA पॉलिमरेज -I
  • DNA लाइगेज

Answer – DNA लाइगेज

Question 5. DNA का रेप्लिकेशन होता है ?

  • 3’→ 5′ दिशा में
  • 2’→ 5′ दिशा में
  • दोनों 5’→3′ और 3’→ 5′ दिशा में
  • उपरोक्त में से कोई नहीं

Answer -दोनों 5’→3′ और 3’→ 5′ दिशा में

Question 6. DNA के प्यूरीन्स निरूपित होते है ?

  • यूरेसिल एवं थाइमिन द्वारा
  • ग्वानिन एवं एडिनीन द्वारा
  • यूरेसिल एवं साइटोसीन द्वारा
  • थाइमिन एवं साइटोसिन द्वारा

Answer – ग्वानिन एवं एडिनीन द्वारा

Question 7. वाट्सन एवं क्रिक विख्यात है अपनी खोज के कारण कि DNA ?

  • एक सूत्री कुण्डली की रचना का होता है
  • में केवल डिऑक्सीराइबोज होता है
  • एक द्विसूत्री कुण्डली की रचना का होता है
  • rRNA का संश्लेषण करता है

Answer – एक द्विसूत्री कुण्डली की रचना का होता है

Question 8. DNA का बहुगुणन कहलाता है ?

  • प्रतिलिपिकरण
  • पारक्रमण
  • ट्रांसक्रिप्शन
  • अनुलिपिकरण

Answer – प्रतिलिपीकरण

Question 9. DNA का ट्रांसक्रिप्शन किसके द्वारा सहायक होता है ?

  • RNA पॉलिमरेज
  • DNA पॉलिमरेज
  • एक्सोन्यूक्लियेज
  • रिकॉम्बीनेज

Answer – RNA पॉलिमरेज

Question 10. संदेशवाहक राइबोन्यूक्लिक अम्ल किसका बहुलक है ?

  • डिऑक्सीराइबोन्यूक्लियोसाइड
  • राइबोन्यूक्लियोसाइड
  • डिऑक्सीराबोन्यूक्लियोटाइड
  • राइबोन्यूक्लियोटाइड

Answer -राइबोन्यूक्लियोटाइड

Question 11. वह पदार्थ जो दो पीढ़ियों के मध्य संयोजी कड़ी का कार्य करता है ?

  • राइबोन्यूक्लिक अम्ल
  • डिऑक्सीराइबोन्यूक्लिक अम्ल
  • न्यूक्लियोप्लाज्म
  • राइबोन्यूक्लिक + डिऑक्सीराइबोन्यूक्लिक अम्ल

Answer – डिऑक्सीराइबोन्यूक्लिक अम्ल

Question 12. प्रोटीन संश्लेषण मे कौन से RNA के द्वारा, DNA से सूचनाओं को लाया जाता है ?

  • s-RNA
  • t-RNA
  • r-RNA
  • m-RNA

Answer – m-RNA

Question 13. DNA टेम्पलेट पर नये स्ट्रेण्ड का प्रारंभन किया जाता है ?

  • RNA पॉलिमरेज
  • DNA पॉलिमरेज
  • DNA लाइगेज
  • उपरोक्त में से कोई नहीं

Answer – उपरोक्त में से कोई नहीं

Question 14. डीएनए अणु की मोटाई कितनी होती है ?

  • 15 Å
  • 20 Å
  • 25 Å
  • 34 Å

Answer – 20 Å

Question 15. DNA न्यूक्लियोटाइड्स किसके द्वारा जुड़े होते है ?

  • हाइड्रोजन बंध
  • सहसंयोजी बंध
  • वांडरवाल बंध
  • इलेक्ट्रोवेलेण्ट बंध

Answer – हाइड्रोजन बंध

Question 16. न्यूक्लिक अम्ल निम्न में से किसका बहुलक होते है ?

  • प्रोटीन
  • कार्बोहाइड्रेट
  • RNA
  • न्यूक्लियोटाइड

Answer – न्यूक्लियोटाइड

Question 17. सेन्ट्रल डोग्मा की प्रक्रिया का सही क्रम है ?

  • रेप्लिकेशन, ट्रांसक्रिप्शन, ट्रांसलेशन
  • रेप्लिकेशन, ट्रांसलेशन, ट्रांसक्रिप्शन
  • ट्रांसलेशन, रेप्लिकेशन, ट्रांसक्रिप्शन
  • ट्रांसक्रिप्शन, रेप्लिकेशन, ट्रांसलेशन

Answer – रेप्लिकेशन, ट्रांसक्रिप्शन, ट्रांसलेशन

Question 18. सेन्ट्रल डोग्मा प्रतिपादित किया ?

  • क्रिक ने
  • बिडल एवं टेटम ने
  • टेमिन तथा बाल्टीमोर ने
  • क्लग ने

Answer – क्रिक ने

Question 19. ह्यूमन जीनोम प्रोजेक्ट प्रारंभ हुआ था ?

  • 1988 में
  • 1990 में
  • 1992 में
  • 1994 में

Answer – 1990 में

Question 20. डीएनए फिंगरप्रिंटिंग विधि बहुत उपयोगी है ?

  • डी.एन.ए परिक्षण पहचान व सम्बन्ध के लिये
  • फोरेन्सिक अध्ययन के लिये
  • बहुस्वरूपता के लिये
  • उपरोक्त सभी

Answer – उपरोक्त सभी

DNA Quiz

2
Created on By SYES

biology डीएनए post

1 / 20

Question 1. DNA अणु में आनुवंशिक सुचना किस पर अंकित होती है ?

2 / 20

Question 2. केवल RNA में उपस्थित यूरीडिन है ?

3 / 20

Question 3. केवल DNA में पाया जाने वाला नाइट्रोजनी क्षार यह भी कहलाता है ?

4 / 20

Question 4. DNA खण्डों को जोड़ने का कार्य कौनसा एन्जाइम करता है ?

5 / 20

Question 5. DNA का रेप्लिकेशन होता है ?

6 / 20

Question 6. DNA के प्यूरीन्स निरूपित होते है ?

7 / 20

Question 7. वाट्सन एवं क्रिक विख्यात है अपनी खोज के कारण कि DNA ?

8 / 20

Question 8. DNA का बहुगुणन कहलाता है ?

9 / 20

Question 9. DNA का ट्रांसक्रिप्शन किसके द्वारा सहायक होता है ?

10 / 20

Question 10. संदेशवाहक राइबोन्यूक्लिक अम्ल किसका बहुलक है ?

11 / 20

Question 11. वह पदार्थ जो दो पीढ़ियों के मध्य संयोजी कड़ी का कार्य करता है ?

12 / 20

Question 12. प्रोटीन संश्लेषण मे कौन से RNA के द्वारा, DNA से सूचनाओं को लाया जाता है ?

13 / 20

Question 13. DNA टेम्पलेट पर नये स्ट्रेण्ड का प्रारंभन किया जाता है ?

14 / 20

Question 14. डीएनए अणु की मोटाई कितनी होती है ?

15 / 20

Question 15. DNA न्यूक्लियोटाइड्स किसके द्वारा जुड़े होते है ?

16 / 20

Question 16. न्यूक्लिक अम्ल निम्न में से किसका बहुलक होते है ?

17 / 20

Question 17. सेन्ट्रल डोग्मा की प्रक्रिया का सही क्रम है ?

18 / 20

Question 18. सेन्ट्रल डोग्मा प्रतिपादित किया ?

19 / 20

Question 19. ह्यूमन जीनोम प्रोजेक्ट प्रारंभ हुआ था ?

20 / 20

Question 20. डीएनए फिंगरप्रिंटिंग विधि बहुत उपयोगी है ?

Your score is

The average score is 50%

0%

यह भी पढ़े :

Tags:

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *